जब लूटने वाले पूर्ण सक्रिय है तो बचाने वाले शांत क्यों बैठे?

जब लूटने वाले पूर्ण सक्रिय है तो बचाने वाले शांत क्यों बैठे?
अभी तो बहुत काम बाकी है





(एक छोटी सी घटना जो मेरे साथ हुई)

मेरे पिता सेना से सेवानिवृत्त है और उन्हें सेना की कैंटीन से सस्ता सामान जो ज़्यादातर विदेशी होता है वो बाज़ार से काफी कम दाम पर मिल जाता है लेकिन उसका फायदा राजीव भाई को सुनने के बाद कम ही ले पाते है
मेरे पिता अपने स्वभाव के कारण सभी की मदद को तैयार रहते है

मेरे घर के पास आर्थिक रूप से परेशान एक नल आदि ठीक करने वाला plumber सूरज रहता है जो हमें भी अपनी सेवा देता रहता है

उसने पिता जी से निवेदन किया की मुझे कैंटीन से कुछ सामान मंगवाना है
पिताजी ने कहा की जब वहां का चक्कर लगेगा तो ले आऊंगा,

मेरे पिता का खुद का सामान कम होता है और दूसरो का अधिक

वो सामान ले आये और घर पर कोने में रख दिया

मुझे इस बात का पता नहीं था तो मैंने पुछा की यह सामान किसका है तो उन्होंने कहा की प्लम्बर का है
क्योंकि उस सामान में Horlicks, Johnson Baby Soap, Maggi, ketchup जैसी वस्तुए थी जो हमारे घर में प्रयोग नहीं होते थे

लगभग रूपए 1500-2000 का सामान था

15-20 दिन हो गए वो प्लम्बर सामान लेने नहीं आया

आखिरकार एक दिन सूरज सामान लेने आया तो मैं घर पर था मैंने उस से पुछा की भाई इतने दिन कहाँ रहे?
वो बोला की पैसे का इंतज़ाम कर रहा था और दिनों से थोडा ज्यादा काम करके मुश्किल से पैसे जुटा पाया हूँ

मैंने पुछा की ये सामान क्यों मंगवाया है तो उसने कहा की मेरा बेटा कमज़ोर है और बीमार रहता है तो TV में देखा की इस से बच्चे में ताकत आती है और बाकि सभी चीजों के बारे में ऐसा ही कुछ बताया

मुझे आश्चर्य हुआ की यह व्यक्ति इतनी मेहनत करके जो पैसा कम कर लाया उसे इस बेकार के सामान पर खर्च कर रहा है

मैंने आधे घंटे उसे समझाया की यह पैसा उसका व्यर्थ जा रहा है और शायद उसे बात समझ आ गयी और उसने पुछा की फिर मैं क्या करू?

तो मैंने उसे बहुत से घर के सस्ते विकल्प बताये वो चला गया और उसका बच्चा पहले से ठीक है

लेकिन मेरे दिमाग में यह बात घुमती रहती है और लगता है की ऐसे कितने ही सूरज है जो अपनी दिन रात की
कमाई से अपने बच्चो को यह सब खिला कर और बीमार करने की तय्यारी कर रहे है

फिर लगता है की अभी तो बहुत काम बाकी है
जब लूटने वाले पूर्ण सक्रिय है तो बचाने वाले शांत क्यों बैठे?

वन्दे मातरम

वीरेंद्र

गोधूली परिवार
 VirenderSingh.in
 GauDhuli.com
 *********
गोधूलि परिवार से कैसे जुडे?
200 परिवार गोधूली साकार
 *******************
गोधूली परिवार: सदस्यता प्रपत्र
 https://goo.gl/vHBPwv

क्या है गोधूलि ? जानने के लिए वीडियो
https://youtu.be/NImemym3XcE

Comments

Popular posts from this blog

सूर्य ग्रहण में सूतक के नियम एवं जानकारियाँ

*कश्यपसंहिता में वर्णित 3 हज़ार वर्ष पुराना आयुर्वेदिक टीकाकरण - स्वर्णप्राशन*

क्यों चमत्कारी है भादवे (भाद्रपद माह) का गोघृत?