शुभ-लाभ: घर संभलेगा तो देश संभलेगा, देश संभलेगा तो घर संभलेगा

 
 

शुभ-लाभ: 

 
घर संभलेगा तो देश संभलेगा, देश संभलेगा तो घर संभलेगा
 




Comments

Popular posts from this blog

सूर्य ग्रहण में सूतक के नियम एवं जानकारियाँ

*कश्यपसंहिता में वर्णित 3 हज़ार वर्ष पुराना आयुर्वेदिक टीकाकरण - स्वर्णप्राशन*

क्यों चमत्कारी है भादवे (भाद्रपद माह) का गोघृत?